समाचार
जामिया हिंसा मामला- दाखिल आरोप-पत्र में शरजील इमाम का नाम, उकसाने का आरोप

15 दिसंबर 2019 को हुई जामिया हिंसा के मामले में दिल्ली पुलिस ने 13 फरवरी को आरोप-पत्र दाखिल कर दिया। इसमें भड़काऊ भाषण देने के आरोप में गिरफ्तार चल रहे शरजील इमाम का नाम है। उनपर भड़काऊ भाषण देकर लोगों को उकसाने का आरोप है। इसके अलावा, दिल्ली की साकेत अदालत ने शरजील को तीन मार्च तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, जाँच में खाली कारतूस मिले हैं। ये जामिया हिंसा के दौरान उपयोग हुई 3.2 एमएम पिस्तौल के हैं। जामिया के किसी भी छात्र का नाम आरोप-पत्र में शामिल नहीं किया गया। इसमें कहा गया है कि सीसीटीवी, कॉल रिकॉर्ड्स और 100 से अधिक गवाहों के बयान पर इसे तैयार किया गया है।

पुलिस के मुताबिक, जामिया हिंसा मामले में अभी तक 17 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। इनमें नौ न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी और आठ जामिया इलाके से हैं। गिरफ्तार किए गए सभी लोग स्थानीय हैं। मामले में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) की भूमिका की भी जाँच की जा रही है।

बता दें कि 15 दिसंबर को जामिया नगर में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के विरोध में प्रदर्शन हिंसक हो गया था। हिंसा में कई बसों को आग लगा दी गई और पुलिस व प्रदर्शनकारियों को भी चोटें आई थीं। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए लाठीचार्ज और आंसू गैस के गोले दागे थे।