समाचार
दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष के खिलाफ भड़काऊ पोस्ट पर राजद्रोह का मामला

दिल्ली पुलिस की विशेष प्रकोष्ठ ने दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष ज़फरूल इस्लाम खान के खिलाफ सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट लिखने पर राजद्रोह के आरोप में मामला दर्ज किया है। हालाँकि, इसके लिए उन्होंने बाद में माफी मांग ली है।

हिन्दुस्तान टाइम्स को रिपोर्ट के अनुसार, ज़फरूल के खिलाफ वसंत कुंज के एक व्यक्ति ने मामला दर्ज करवाया। उन्होंने पुलिस को अपनी शिकायत में जोर देकर कहा कि खान के सोशल मीडिया पोस्ट में उत्तेजक टिप्पणी थी, जिससे समाज में असंतोष पैदा हुआ और उनमें दरार आई।

अपने पोस्ट में खान ने इस्लामिक सलाफी-जिहादी प्रचारक जाकिर नाइक का स्वागत किया, जिनके प्रचार पर कई देशों में प्रतिबंध लगा है। वह कई आतंकवादी घटनाओं से जुड़े होने के साथ आपराधिक गतिविधियों को लेकर भारत में वांछित है। यही नहीं, इंटरपोल ने उनके खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस (आरसीएन) भी जारी किया है।

अपने पोस्ट में इस्लाम खान ने चेतावनी दी थी कि अगर भारतीय मुसलमानों ने घृणा अभियान, लिंचिंग और दंगों के बारे में अरब देशों से शिकायत कर दी तो हिंदू कट्टरों को एक बड़े जलजले का सामना करना पड़ेगा।

उनकी इस सांप्रदायिक टिप्पणी के बाद विवाद खड़ा हो गया। उन्होंने एक बयान जारी कर स्वीकार किया कि सोशल मीडिया पर उनका भड़काऊ पोस्ट देश में कोविड-19 महामारी के खिलाफ चल रही लड़ाई के मद्देनजर असंवेदनशील थी।