समाचार
अंकित सक्सेना की हत्या के बाद पिता का दर्द, “नहीं मिली केजरीवाल सरकार की सहायता”

पिछले वर्ष की फरवरी में मुस्लिम प्रेमिका के परिवारजन द्वारा मारे गए अंकित सक्सेना के पिता का कहना है कि उन्हें दिल्ली सरकार से कोई सहायता नहीं मिली है। सक्सेना के पिता ने एएनआई  को बताया कि उन्हें अच्छे वकील व वित्तीय सहायता का वादा किया गया था लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

दिल्ली सरकार के रवैये पर प्रश्न करते हुए यशपाल सक्सेना कहते हैं, “क्या दोनों समुदायों के बीच विवाद उत्पन्न होने से जल्दी मुआवज़ा मिलता?” अपने फोटोग्राफर बेटे को खोने का दर्द बताते हुए वे कहते हैं, “हमारे परिवार में वह एकमात्र रोज़ी-रोटी कमाने वाला था।”

“मुझे दिल का दौरा पड़ा था, मेरी पत्नी के तीन ऑपरेशन हुए हैं, इसमें खर्चा हुआ है। पड़ोसियों ने थोड़ी सहायता की।”, अपनी व्यथा बताते हुए वे आगे कहते हैं, “दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा था कि हमें 5 लाख रुपये का मुआवज़ा मिलेगा, उसके बाद उन्होंने कहा था कि वे सहायता करेंगे लेकिन उन्होंने कोई प्रतिक्रिा नहीं दी है। मैं टूट चुका हूँ।”