समाचार
रक्षा मंत्रालय ने 108 सैन्य उपकरणों के आयात पर लगाया प्रतिबंध, जारी की दूसरी सूची

विदेशी सैन्य उपकरणों पर भारत की निर्भरता को कम करने के लिए नीतिगत हस्तक्षेपों के अपने क्रमों को जारी रखते हुए रक्षा मंत्रालय ने सोमवार (31 मई) को 108 वस्तुओं की दूसरी नकारात्मक आयात सूची की घोषणा की। हल्के, मध्यम और भारी लड़ाकू बख्तरबंद वाहन इसका हिस्सा हैं।

यह बताया गया था कि भारत दिसंबर 2021 से किसी भी टैंक का आयात नहीं करेगा। सूची में हल्के हेलिकॉप्टर से लेकर लड़ाकू युद्धपोत और पहिएदार बख्तरबंद, 108 तरह के हथियारों, मंचों, गोला-बारूद और अन्य सैन्य उपकरणों के शामिल होने का उल्लेख किया गया है। इन्हें क्रमबद्ध तरीके से दिसंबर 2021 से 2025 के अंत तक आयात के लिए प्रतिबंधित किया जाएगा।

101 वस्तुओं की पहली नकारात्मक आयात सूची अगस्त 2020 में घोषित की गई थी। भारत एक दशक से अधिक समय से दुनिया में हथियारों के सबसे बड़े आयातकों में से एक रहा है। सरकार का उद्देश्य घरेलू रक्षा निर्माण उद्योग को बढ़ावा देना है।

रक्षा मंत्रालय ने सोमवार को एक बयान में कहा कि आत्मनिर्भर भारत और रक्षा क्षेत्र में स्वदेशीकरण को बढ़ावा देने के लिए रक्षा मंत्री ने 108 वस्तुओं की दूसरी सकारात्मक स्वदेशीकरण सूची को अधिसूचित करने के एक प्रस्ताव को स्वीकृति दे दी है।

इस निर्णय को लेकर कहा गया कि आत्मनिर्भरता हासिल करने और रक्षा निर्यात को बढ़ावा देने के दोहरे उद्देश्यों को पूरा करने के लिए सार्वजनिक और निजी क्षेत्र की सक्रिय भागीदारी के साथ स्वदेशीकरण को और बढ़ावा दिया जाएगा।