समाचार
आरटीआई में कांग्रेस की खुली पोल, यूपीए सरकार में कभी नहीं हुई सर्जिकल स्ट्राइक

रक्षा मंत्रालय से सूचना के अधिकार (आरटीआई) के तहत जानकारी मिली है कि 2016 से पहले कभी भी सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक जैसा कोई अभियान नहीं चलाया था। इसे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस की विफलता के तौर पर देखा जा रहा है।

इससे पहले पूर्व प्रधानमंत्री और कांग्रेस पार्टी ने दावा किया था कि उसकी पूर्ववर्ती संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) सरकार ने 2004 से लेकर 2014 तक के कार्यकाल के दौरान छह सर्जिकल स्ट्राइक की थीं। इस जानकारी ने कांग्रेस के झूठ का पर्दाफाश कर दिया है।

रक्षा मंत्रालय ने आधिकारिक तौर पर जो पुष्टि की है उसके मुताबिक, अब तक केवल एक ही ऐसा अभियान चलाया गया है।

न्यू इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, जम्मू-कश्मीर के एक्टिविस्ट रौहित चौधरी ने इस जानकारी को लेकर आरटीआई डाली थी। इसके जवाब में भारतीय सेना के सैन्य अभियान के महानिदेशक ने कहा, “हमारे पास 29 सितंबर 2016 से पहले की गई सर्जिकल स्ट्राइक से संबंधित कोई डाटा नहीं है।”

कुछ दिनों पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने असत्यापित दवा किया था कि यूपीए सरकार ने ऑपरेशन जिंजर के नाम से 2011 में सर्जिकल स्ट्राइक की थी।