समाचार
भारत ने लिया पाकिस्तान उच्चायोग में कर्मचारियों की संख्या आधी करने का निर्णय

भारत सरकार ने नई दिल्ली में पाकिस्तानी उच्चायोग में कर्मचारियों की संख्या 50 प्रतिशत से कम करने का निर्णय लिया है। इसके बाद उच्चायोग में पड़ोसी देश के तैनात कर्मचारियों की संख्या 110 से घटाकर 55 कर दी जाएगी।

न्यूज-18 की रिपोर्ट के अनुसार, विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को पाकिस्तान उच्चायोग के प्रभारी को तलब किया। पाकिस्तान उच्चायोग के कर्मचारियों की गतिविधियों को लेकर भारत बार-बार चिंता व्यक्त करता रहा है। वे जासूसी करते हैं और आतंकी संगठनों से संबंध रखते हैं।

वहीं, भारत भी पारस्परिक रूप से इसी अनुपात में इस्लामाबाद में अपनी उपस्थिति को कम करेगा। यह फैसला अगले सात दिनों में लागू कर दिया जाएगा। पाकिस्तान के अधिकारियों को इसकी सूचना दे दी गई है।

31 मई 2020 को पाकिस्तान उच्चायोग के दो कर्मचारियों को देश विरोधी गतिविधियों के लिए रंगे हाथ पकड़ा गया था और उन्हें निष्कासित किया गया था। वहीं, पाकिस्तान के उच्चायोग में काम करने वाले दो अधिकारियों का बंदूक की नोक पर अपहरण किया गया था और उनके साथ बुरा व्यवहार किया था।

22 जून को भारत लौटकर आए उच्चायोग के कर्मचारियों ने बुरे व्यवहार की सारी जानकारी दी। इसके बाद भारत ने पाकिस्तानी कर्मचारियों की संख्या आधी करने का निर्णय लिया।