समाचार
कर्नाटक- मुंबई में डीके शिवकुमार से नहीं मिले बागी विधायक, अदालत जाने की योजना

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता डीके शिवकुमार बातचीत के जरिए बागी विधायकों को मनाने के लिए मुंबई पहुँचे। वे पवई के उस होटल भी गए, जहाँ बागी नेता ठहरे थे पर इससे मामला और बिगड़ गया।

कर्नाटक के बागी विधायकों ने मुंबई पुलिस कमिश्नर को शिकायत पत्र लिखा, “हम एचडी कुमारस्वामी और डीके शिवकुमार के बयान सुनने के बाद खतरा महसूस कर रहे हैं।” शिवकुमार ने जद (एस) के विधायक शिवलिंग गौड़ा के साथ मुंबई पहुँचने के बाद कहा, “मेरे भाई यहाँ हैं। मैं उनसे मिलना चाहता हूँ। कुछ मुद्दे थे, जिन्हें हम बातचीत से सुलझाना चाहते हैं।” हालाँकि, पुलिस शिवकुमार को वहाँ से दूर ले गई।

कांग्रेस विधायक रमेश जारकीहोली ने कहा, “शिवकुमार झूठ बोल रहे हैं। हमने उन्हें पहले सूचित कर दिया था कि हम मिलना नहीं चाहते हैं। हमने सिर्फ पदों से इस्तीफा दिया है, कांग्रेस से नहीं। यह एक साल से चल रहा है।”

अब बागी कांग्रेस-जद (एस) विधायक कथित तौर पर बुधवार को कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ सर्वोच्च न्यायालय जाने की योजना बना रहे हैं। उनका आरोप है, “अध्यक्ष रमेश कुमार जान-बूझकर इस्तीफे स्वीकार करने में देरी कर रहे हैं।” वहीं, कांग्रेसी नेता रामलिंगा रेड्डी भी नेताओं से मिलने से बचने के लिए फार्म हाउस चले गए। खबर है कि कांग्रेस के कई नेता जल्द बेंगलुरु आने वाले हैं।

एक अन्य वरिष्ठ कांग्रेस नेता और शिवाजीनगर के विधायक रोशन बेग ने अपना इस्तीफा दे दिया। अब इस्तीफा देने वालों की संख्या 15 हो गई है। करीब 8 विधायकों ने मंगलवार कांग्रेस विधायक दल की बैठक छोड़ दी थी। इससे अटकलें लगने लगीं कि वे भी पार्टी छोड़ रहे हैं।

इससे पहले सभी कैबिनेट मंत्रियों ने असंतुष्ट विधायकों को वापस लाने के लिए इस्तीफा दिया था। विधानसभा अध्यक्ष ने मंगलवार को 8 विधायकों के इस्तीफों को खारिज कर दिया था। स्पीकर के अनुसार, 5 अन्य का इस्तीफा क्रम में है।