समाचार
शाहिद अफरीदी ने 23 साल बाद खोला रहस्य, 1980 नहीं 1975 में हुए थे पैदा

23 वर्ष बाद पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर शाहिद अफरीदी ने अपनी जन्मतिथि का रहस्य खोल दिया है। उन्होंने बताया कि आधिकारिक आँकड़ों के अनुसार उनका जन्म 1980 में नहीं बल्कि 1975 में हुआ था।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, इस बड़े रहस्य का उद्घाटन उन्होंने अपनी आत्मकथा ‘गेम चेंजर’ में किया है। इसका मतलब यह हुआ इस पाकिस्तानी ऑलराउंडर ने जब 1996 में नैरोबी में श्रीलंका के खिलाफ 37 गेंदों पर शतक लगाने का कीर्तिमान बनाया था, तब वह 16 साल के नहीं थे।

अफरीदी ने अपनी आत्मकथा में लिखा, “बताना चाहता हूँ कि जब मैंने अंतरराष्ट्रीय टीम में क्रिकेट खेलना शुरू किया था, तब मैं 19 साल का था न कि 16 साल का, जैसा लोग कहते हैं। मेरा जन्म 1975 को हुआ था। प्रशासन ने मेरी आयु गलत लिख दी थी।”

हालाँकि, उन्होंने अपने बयान में एक बड़ी गलती कर दी है। अगर वह 1975 को जन्मे हैं तो 1996 में नैरोबी में खेलने के दौरान अफरीदी 19 साल के नहीं बल्कि 20 से 21 साल के आसपास के रहे होंगे। इस तरह उन्होंने 36 साल नहीं बल्कि 41 साल की उम्र में क्रिकेट से संन्यास लिया था।

क्रिकेट प्रेमियों के बीच बूम-बूम अफरीदी के नाम से प्रसिद्ध पूर्व पाकिस्तानी कप्तान ने 27 टेस्ट, 398 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय और 99 टी-20 मुकाबले खेले हैं। उन्होंने 2016 में टी-20 विश्वकप के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था।