समाचार
उत्तर प्रदेश- मुख्यमंत्री की 35 लाख दैनिक श्रमिकों को एक हजार रुपये देने की घोषणा

कोरोनावायरस की वजह से कई लोगों की जीविकाएँ बंद होने के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक हजार रुपये प्रति व्यक्ति 15 लाख दैनिक श्रमिकों और 20.37 लाख निर्माण श्रमिकों को उनकी दैनिक जरूरतों को पूरा करने के लिए देने का ऐलान किया है।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने कहा, “राज्य में 15 लाख दैनिक श्रमिक पंजीकृत हैं, उन्हें 1000 रुपये की मदद दी जाएगी। साथ ही चिह्नित 20.37 लाख श्रमिकों, जिनमें रिक्शा, खोमचेवाले, रेहड़ी वाले, फेरी वाले, निर्माण कार्य करने वाले शामिल हैं को भी 1000 रुपये की सहायता राशि दी जाएगी।”

मुख्यमंत्री ने तत्काल मनरेगा मजदूरों को भुगतान देने की घोषणा की। एक हजार रुपये की यह सहायता राशि सीधे उनके खातों में भेजी जाएगी। उन्होंने कहा, “1.65 करोड़ परिवारों को अनाज उपलब्ध कराया जाएगा। बीपीएल परिवारों को 20 किलो गेहूं और 15 किलो चावल मुफ्त मिलेगा।”

उन्होंने आगे कहा, “पीडीएस दुकानों के जरिए अनाज बाँटा जाएगा। अप्रैल और मई की पेंशन अप्रैल में ही दी जाएगी। किसी भी चीज़ की किल्लत बाज़ार में नहीं होगी। उन्होंने अपील की कि जनता कर्फ्यू के दौरान अनावश्यक रूप से लोग बाजार न जाएँ।”