समाचार
कोरोनावायरस के फैलाव में तापमान की भूमिका, 8.72°C पर होता है सबसे तीव्र- अध्ययन

कोरोनावायरस के फैलाव में तापमान की अहम भूमिका हो सकती है। चीन के गुआंगज़ू में स्थित सन यात-सेन विश्वविद्यालय ने कहा है कि कोविड-19 एक विशेष तापमान पर सबसे तेज़ी से फैलता है, साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट  ने रिपोर्ट किया।

पिछले सप्ताह प्रकाशित हुए इस अध्ययन की समीक्षा अभी बाकी है लेकिन इसका कहना है कि 8.72 डिग्री सेल्शियस तक कोरोनावायरस का फैलाव तेज़ी से बढ़ा और उसके बाद घट जाता है।

यह अध्ययन 20 जनवरी से 4 फरवरी के बीच 400 चीनी शहरों में पुष्टि किए गए कोरोनावायरस के मामलों पर हुआ। इसके बाद दल ने मौसम के परिप्रेक्ष्य में इन मामलों को मॉडल किया।

पहले भी ऐसी बातें सामने आ रही थी कि सामान्य वायरस की तरह कोरोनावायरस भी अधिक तापमान में नहीं टिक पाएगा। अध्ययन का कहना है कि कम तापमान वाले क्षेत्रों में यह तेज़ी से फैलता है।

कई देश की सरकारें कोरोनावायरस के प्रभाव के कम होने के लिए ग्रीष्म ऋतु की प्रतीक्षा कर रही हैं। यूएस रष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी कहा था कि उन्हें आशा है कि अप्रैल में गर्मी से कोरोनावायरस का पैलाव कम होगा।