समाचार
कोवैक्सीन कोविड के अन्य प्रकारों सहित डेल्टा पर भी 65.2% तक प्रभावी, परिणाम जारी

हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक ने कोवैक्सीन के तीसरे और अंतिम चरण के परीक्षण पूरे करते हुए इसके परिणाम भी जारी कर दिए। यह कोविड-19 के गंभीर रोगियों और डेल्टा प्रकार पर प्रभावी पाई गई है।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, भारत बायोटेक द्वारा जारी परीक्षण के परिणाम के मुताबिक, अंतिम चरण के परीक्षण में कोवैक्सीन कोविड-19 के विरुद्ध 77.8 प्रतिशत प्रभावी पाई गई है। वहीं, डेल्टा प्रकार के विरुद्ध यह 65.2 प्रतिशत असरदार साबित हुई है।

भारत बायोटेक ने प्री-प्रिंट के डाटा का हवाला देते हुए कहा, “कोवैक्सीन रोगसूचक कोविड रोगियों के विरुद्ध 77.8 प्रतिशत प्रभावी है। यह गंभीर मरीज़ों के विरुद्ध 93.4 प्रतिशत कारगर है। ये परीक्षण कोविडना के 130 पुष्ट मामलों पर किए गए हैं।”

स्वदेशी वैक्सीन का परीक्षण 25 अलग-अलग अस्पतालों में किया गया था। इसमें करीब 25,800 स्वयंसेवक सम्मिलित हुए थे, जो 18 से 98 वर्ष के आयु वर्ग के थे।

बता दें कि इससे पूर्व अमेरिका के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ ने पाया था कि कोवैक्सीन से शरीर में बनी एंटीबॉडीज़ कोविड के अल्फा और डेल्टा वेरिएंट्स से लड़ने में कारगर है।