समाचार
मोहम्मद शमी और उनके भाई के खिलाफ घरेलू हिंसा के आरोप में गिरफ्तारी वॉरंट जारी

घरेलू हिंसा के आरोप में अलीपुर अदालत ने भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी मोहम्मद शमी और उनके भाई हासिद अहमद के खिलाफ गिरफ्तारी वॉरंट जारी किया है। शमी की पत्नी हसीन जहाँ ने दोनों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, अदालत ने मोहम्मद शमी और उनके भाई को 15 दिन में समर्पण करने का आदेश दिया है। इससे पहले, मार्च में शमी पर दहेज उत्पीड़न और यौन उत्पीड़न के मामले में चार्जशीट दायर की गई थी।

इससे पहले, पत्नी नूर जहाँ ने शमी पर मैच फिक्सिंग का भी आरोप लगाया था। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने मामले की जाँच की थी। आरोप सिद्ध न होने के बाद उन्हें फिक्सिंग के आरोप से बरी कर दिया गया था।

अब गिरफ्तारी के सवाल पर बीसीसीआई ने कहा, “मोहम्मद शमी के खिलाफ तब तक कोई कार्रवाई नहीं की जा सकती है, जब तक चार्जशीट नहीं देख लेते हैं। इसके बाद विचार किया जाएगा कि बोर्ड का संविधान किस तरह की कार्रवाई के लिए निर्देशित करता है।”

बोर्ड ने आगे कहा, “फिलहाल अभी हम इस मामले में उलझना नहीं चाहते हैं। इस पर तुरंत कोई फैसला लेना जल्दबाजी होगी। वेस्टइंडीज दौरे से लौटने के बाद जो ज़रूरी कदम होगा, वो शमी उठाएँगे।”