समाचार
कोविड-19- मारुति सुज़ुकी एजीवीए हेल्थकेयर संग 30 मई तक बनाएगी 10,000 वेंटिलेटर

ऑटोमोबाइल क्षेत्र में बड़े नाम के रूप में पहचानी जाने वाली मारुति सुज़ुकी इंडिया लिमिटेड (एमएसआईएल) ने शुक्रवार (24 अप्रैल) को सार्वजनिक किया कि मई के अंत तक एजीवीए हेल्थकेयर, जो भारत में वेंटिलेटर की निर्माता कंपनी है, के साथ साझेदारी में वह 10,000 वेंटिलेटर बनाएगी।

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, 10,000 वेंटिलेटर एमएसआईएल और एजीवीए हेल्थकेयर को मिले पहले ऑर्डर का एक भाग है। इस बीच गौर करने वाली बात यह है कि पहले वेंटिलेटर का निर्माण 11 अप्रैल को किया गया था। कोविड-19 की वजह से वेंटिलेटर की बढ़ती मांग को देखते हुए 10 दिन में यह दोनों कंपनियाँ सेना के साथ जुड़कर घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा देने में जोर-शोर से जुट गईं।

एमएसआईएल के अध्यक्ष आरसी भार्गव के अनुसार, सरकार ने कोविड-19 से लड़ने के लिए देश की क्षमता को बढ़ाने के उद्देश्य से वेंटिलेटर निर्माण में हमारी मदद मांगी थी। इसके बाद सेना के साथ जुड़कर मारुति सुज़ुकी इंडिया ने उत्पादन को बढ़ाने के लिए एक नए और छोटे स्टार्ट-अप एजीवीए हेल्थकेयर संग बड़े पैमाने पर वेंटिलेटर निर्माण का फैसला किया।

यह भी गौर किया जाना चाहिए कि 30 मार्च को एमओयू पर हस्ताक्षर करने के बाद से दोनों कंपनियों ने मिलकर अब तक 1,250 वेंटिलेटरों का निर्माण किया है। आरसी भार्गव के अनुसार, उत्पादन दर पहले ही एक दिन में 250-300 वेंटिलेटर तक बढ़ गई है, जिसके एक दिन में 400 वेंटिलेटर तक पहुँचने की संभावना है।