समाचार
कठुआ दुष्कर्म-हत्या मामले में छह आरोपी दोषी सिद्ध, 2 बजे सुनाई जाएगी सज़ा

जम्मू-कश्मीर के कठुआ में 8 वर्षीय कन्या के बलात्कार और हत्या के मामले में न्यायालय ने सोमवार (10 जून) को सात में से छह आरोपियों को दोषी घोषित किया। सर्वोच्च न्यायालय के आदेश पर यह मामला जम्मू-कश्मीर के बाहर पंजाब के पठानकोट स्थित विशेष न्यायालय को सौंपा गया था।

हिंदुस्तान टाइम्स  ने बताया कि पुलिस के अनुसार इस अपराध का उद्देश्य क्षेत्र से बंजारी जनजाति बकरवाल समुदाय को खदेड़ना था। कन्या का अपहरण कर उसे नशा देकर उसके साथ दुष्कर्म किया गया था। चार दिन बाद उसका गला घोंटकर और पत्थर से मारकर उसकी हत्या की गई थी।

10 जनवरी को कन्या का अपहरण हुआ था और 14 जनवरी को हत्या। इसके बाद 17 जनवरी को उसका शव कठुआ के निकट वन क्षेत्र में मिला। मामले की सुनवाई 3 जून को पूरी हुई थी।

मुख्य अपराधी पूर्व राज्व अधिकारी संजी राम है, उसके साथ दो विशेष पुलिस अधिकारी दीपक खजुरिया, सुरेंद्र वर्मा, हेड कॉन्सेटबल तिलक राज और सब-इंस्पेक्टर आनंद दत्ता को दोषी पाया गया है। केवल संजी राम के बेटे विशाल को ही दोषमुक्त किया गया है।