समाचार
रवनीत सिंह बिट्टू ने खलिस्तानियों पर आरोप लगाकर कहा- 3 दिन पहले बनी थी योजना

दिल्ली में मंगलवार (26 जनवरी) को गणतंत्र दिवस पर प्रदर्शनकारी किसानों द्वारा ट्रैक्टर परेड में हिंसा के बाद पंजाब में लुधियाना के कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने दावा किया कि इस घटना में खालिस्तानियों का हाथ है।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, रवनीत सिंह बिट्टू ने कहा, “दिल्ली में जो कुछ भी हुआ है, उसकी योजना तीन दिन पहले ही बना ली गई थी। इस आंदोलन के पीछे खालिस्तानी नेता दीप सिद्धू अपना एजेंडा चला रहा है। उसी ने हिंसा और उपद्रव की पूरी योजना बनाई थी।”

कांग्रेस सासंद ने कहा, “गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या वाली रात में ही उसके लोगों ने किसानों के ट्रैक्टरों पर कब्ज़ा कर लिया था और राजधानी में घुस गए थे। फिर खालिस्तानियों ने ही सारी हिंसा को अंजाम दिया था। केंद्र सरकार को अब इससे कड़ाई से निपटना चाहिए।”

रवनीत सिंह ने किसान नेताओं से अपील की कि वे ऐसे नेताओं से खुद को अलग कर लें। दिल्ली हिंसा के पीछे रेफरेंडम 2020 और सिख फॉर जस्टिस से जुड़े लोग हैं। किसान नेताओं ने पुलिस को विश्वास में लेकर जिस तय कार्यक्रम का वादा किया था, वह उन्होंने तोड़ दिया था।

आखिरी में उन्होंने कहा, “सिख फॉर जस्टिस नाम के संगठन का लाइव चैनल रोज अमेरिका और कनाडा में चलता है। वहाँ से 12 बजे लाइव होकर योजना बनाई गई कि कैसे दीप सिद्धू और रेफरेंडम 2020 वाले स्टेज पर कब्जा करेंगे और लाल किले पर झंडा फहराएँगे।”