समाचार
कांग्रेस ने जारी किया घोषणापत्र- रोज़गार, न्यूनतम आय और क़र्ज़माफ़ी हैं मुख्य मुद्दे

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने चुनाव के लिए घोषणापत्र जारी कर दिया है जिसमें उन्होंने कई वादे किए हैं। उनका दावा है कि चुनाव जीतने के बाद वे इन्हें पूरा करेंगे। घोषणापत्र में उन्होंने न्यूनतम आय योजना, रोज़गार और किसानों के क़र्ज़ माफ़ी की बात ज़ोर दिया।

राहुल गांधी का कहना है कि वे न्यूनतम आय योजना के तहत सभी गरीब व्यक्तियों को 72,000 रुपये सालाना देंगे। उन्होंने अपनी इस योजना को बताते हुए कहा, “प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि वे सबके खाते में 15 लाख रुपये डालेंगे लेकिन जब हमने इसकी जानकारी ली तो पता लगा कि खातों में 72 हज़ार रुपये डाले जा रहे हैं इसलिए हमने फैसला लिया है कि हर व्यक्ति को 72 हज़ार रुपये सालाना दिए जाएँगे।”

राहुल गांधी ने दूसरा मुद्दा रोजगार का उठाया। रोज़गारी हुए राहुल गांधी ने कहा कि देश भर में 22 लाख सरकारी नौकरियों के पद खाली हैं, जिन्हें कांग्रेस की जीत के बाद मार्च 2020 तक भर दिया जाएगा। युवाओं को नौकरी देने के बारे में बात करते हुए राहुल गांधी ने बताया कि ग्राम पंचायत में 10 लाख पद खाली हैं जिन्हें युवाओ को सौंपा जाएगा। साथ ही युवाओं को नया व्यापार शुरू करने के लिए किसी भी प्रकार की मंज़ूरी नहीं लेनी होगी। इसके अलावा मनरेगा में रोज़गार के समय को 100 दिन से बढ़ा कर 150 दिन करने का वादा भी किया है।

किसान की कर्ज़माफ़ी के बारे में बात करते हुए राहुल गांधी ने बताया कि कांग्रेस ने छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, राजस्थान, पंजाब और कर्नाटक में किसानों का क़र्ज़ माफ़ किया है। उन्होंने न्यूनतम समर्थन आय (एमएसपी) को बढ़ाने के विषय में विचार करने की भी बात कही।

सभी किसानों एवं गरीब व्यक्तियों को अच्छे इलाज की सुविधाएँ प्रदान करवाने का वादा भी किया गया। भाजपा पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा कि भाजपा ने देश को बाँटा है लेकिन कांग्रेस सरकार इसे एक बार फिर एकजुट करेगी और देश को मज़बूत बनाएगी।