समाचार
कांग्रेस-जेडीएस की गठबंधन सरकार बचाने के लिए कुमारस्वामी की ‘विश्वास’ परीक्षा

एचडी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली कांग्रेस-जेडीएस की कर्नाटक सरकार को गुरुवार (18 जुलाई) को विश्वास मत साबित करना होगा। “विश्वास मत पर चर्चा गुरुवार 11 बजे शुरू होगी।”, कांग्रेस नेता व पूर्व मुख्यमंत्री सिद्दारमय्या ने घोषणा की।

पिछले सप्ताह में मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने गठबंधन के 16 विधायकों के त्याग-पत्र के बाद विश्वास मत साबित करने का आमंत्रण दिया था। “कई विधायकों के निर्णय के कारणये सब चीज़ें हो रही हैं, जिसके कारण परिस्थिति चिंताजनक हो गई है। मैं यहाँ सत्ता में बैठने नहीं आया हूँ और इसलिए मैं विश्वास मत लाना चाहता हूँ।”, कुमारस्वामी ने कहा था।

यदि विधान सभा अध्यक्ष 16 विधायकों का त्याग-पत्र स्वीकार कर लेते हैं तो सभा में सदस्यों की संख्या 224 से घटकर 208 की हो जाएगी। त्यागपत्र के बाद गठबंधन के पास 101 विधायक रह जाएँगे, वहीं भाजपा के 105 विधायक होंगे।