समाचार
आईटी सेल की तैयारी में कांग्रेस, 5 लाख कर्मचारियों के साथ टीसीएस को भी छोड़ेगी पीछे

सोनिया गांधी के नेतृत्व वाली कांग्रेस ने घोषणा की है कि भाजपा के आईटी सेल से टक्कर लेने के लिए पार्टी 5 लाख सोशल मीडिया योद्धाओं की भर्ती करेगी। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक वीडियो संदेश जारी कर युवाओं को कांग्रेस सोशल मीडिया टीम से जुड़ने को कहा जो उनके अनुसार “सत्य की सेना” है और “आइडिया ऑफ इंडिया” की रक्षा करेगी।

कांग्रेस 50,000 कर्मचारियों को नियुक्त करेगी जो हर जिले में होंगे और 4.5 लाख स्वयंसेवक इन कर्मचारियों की सहायता के लिए होंगे। “इच्छुक लोगों का परीक्षण कर साक्षात्कार से लोगों को चयनित किया जाएगा और परियोजना को शीघ्र शुरू करने के लिए उन्हें प्रशिक्षण दिया जाएगा।”, एक कांग्रेस नेता ने कहा।

ध्यान देने वाली बात यह है कि यदि कांग्रेस योजना के अनुसार 5 लाख लोगों को नियुक्त करती है तो वह टाटा कन्सल्टेन्सी सर्विसेज़ के 4 लाख 46 हज़ार कर्मचारियों को पीछे छोड़ते हुई सबसे बड़ी आईटी संस्था बन जाएगी। भारत की दूसरी सबसे बड़ी निजी आईटी कंपनी क्वेस कॉर्प की तुलना में कांग्रेस में 30 प्रतिशत अधिक कर्मचारी होंगे।

वहीं इन्फोसिस जिसमें 2.43 लाख कर्मचारी काम करते हैं, उससे दोगुने व 1.75 लाख कर्मचारियों विप्रो और 1.25 लाख कर्मचारियों वाली टेक महिंद्रा से कई गुना कर्मचारी कांग्रेस आईटी सेल में काम करेंगे। यहाँ तक कि 4.2 लाख कर्मचारियों वाली भारतीय डाक सेवा को भी कांग्रेस पीछे छोड़ देगी।