समाचार
प्रियंका गांधी को संतों ने फटकारा, कहा- “कांग्रेस की देश से भगवा को मिटाने की कोशिश”

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के भगवा पर दिए गए बयान ने कथित तौर पर अयोध्या के संतों और द्रष्टाओं को क्रोधित कर दिया है।

हनुमान गढ़ी मंदिर के महंत राजू दास ने कहा, “भगवा को निशाना बनाना सही नहीं है। मुख्यमंत्री को भगवा क्यों नहीं पहनना चाहिए? कांग्रेस देश से भगवा को मिटाने की कोशिश कर रही है लेकिन सफल नहीं हुई है और कभी नहीं होगी। प्रियंका अब मुस्लिमों को देशद्रोही बनाने की कोशिश में लगी हैं। यह कांग्रेस के लिए बुरी खबर लाएगी।”

द्रष्टा ने आगे कहा, “पुलिस अत्याचारों का शिकार हो गई। हाल ही में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के विरोध प्रदर्शन के दौरान उनके वाहनों को आग लगा दी गई। इसके लिए जिम्मेदार लोगों को अब वीडियो फुटेज के माध्यम से पहचाना जा रहा है और उन्होंने जो नुकसान किया है, उसकी उनसे भरपाई करवाई जाएगी। इसके लिए योगी आदित्यनाथ की सराहना की जानी चाहिए।”

भाजपा सांसद साध्वी निरंजन ज्योति ने भी प्रियंका पर धर्म में राजनीति लाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, “भगवा को राजनीति में खींचने की जरूरत कहाँ थी? हम इसकी कड़ी निंदा करते हैं।”

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमला करते हुए सोमवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा था, “वह एक योगी की पोशाक पहनते हैं। वह भगवा कपड़े पहनते हैं। यह भगवा आपका नहीं है, यह भगवा हिन्दुस्तान की धार्मिक आध्यात्मिक परंपरा का है।”

उन्होंने आगे कहा, “यह हिंदू धर्म का प्रतीक है। उस धर्म को धारण करिए। उस धर्म में क्रोध, हिंसा और बदले की कोई जगह नहीं है।”