समाचार
“मुनव्वर फारूकी पर प्राथमिकी दर्ज करने में दिल्ली पुलिस कर रही देरी”- शिकायतकर्ता

स्टैंडअप कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी पर पिछले महीने हिंदू देवी-देवताओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने को लेकर दिल्ली में एक शिकायत दर्ज की गई थी। इसमें शिकायतकर्ता ने कई आपत्तिजनक वीडियो वायरल होने का हवाला देते हुए कार्रवाई की मांग की थी। अभी तक इस मामले को लेकर पुलिस ने कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं की है।

स्वराज्य को शिकायतकर्ता शिवम रावत ने बताया, “शिकायत के बाद से मैं एसएचओ से मामले में आगे की कार्रवाई के बारे में जानकारी ले रहा था पर कुछ नहीं हुआ। कुछ दिन पूर्व मुझे बोला गया कि मामला बेहद संवेदनशील है इसलिए इसे डीसीपी देखेंगे।”

शिवम ने कहा, “डीसीपी के पास करीब 10 दिन से मामला है। मैंने फिर कार्रवाई के बारे में जाना तो कहा गया कि ऐसे मामलों में समय लगता है। मुझे पता है कि ऐसी कार्रवाइयों में समय लगता है पर शिकायत किए हुए चार हफ्ते बीत चुके हैं। शिकायत वायरल हुए कई वीडियो के आधार पर है, जो तीन से चार महीने पहले ट्विटर पर ट्रेंड कर चुके हैं। इसके बावजूद आरोपी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज नहीं की जा रही है।”

उन्होंने बताया, “जब भी पुलिस से इस बारे में जानना चाहा तो उन्होंने जाँच जारी है कहकर बात टाल दी। उन्होंने यह नहीं बताया कि प्राथमिकी दर्ज करने में कितना समय लगेगा।” बता दें कि शिकायतकर्ता ने 21 अगस्त को इस संबंध में ट्वीट भी किया था। इसमें उन्होंने दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, गृहमंत्री अमित शाह, डीसीपी समेत कई पत्रकारों को टैग करके प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की थी।

दिल्ली के किशनगढ़ थाने में शिवम रावत ने 16 अगस्त को मुनव्वर फारूकी समेत मुंबई स्थित द हैबीटेट- कॉमेडी एंड म्यूजिक कैफे पर प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की थी।