समाचार
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पवन वर्मा को फटकार- “किसी भी पार्टी में शामिल हो जाएँ”

कुछ दिन पहले जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन वर्मा ने नागरिकता संशोधन अधिनियम पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से स्पष्टीकरण मांगा था और पार्टी छोड़ने की धमकी दी थी जिसपर बिहार के मुख्यमंत्री ने कहा है कि वह ऐसा करने के लिए स्वतंत्र हैं।

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वर्मा के सार्वजनिक बयानों पर ‘आश्चर्य’ व्यक्त किया और कहा वह, “जिस भी पार्टी को वह पसंद करते हैं उसमे शामिल हो सकते हैं।”

“अगर किसी को कोई परेशानी है तो वह व्यक्ति पार्टी के भीतर या पार्टी की बैठकों में इस पर चर्चा कर सकता है, लेकिन इस तरह के सार्वजनिक बयान आश्चर्यजनक हैं। वह जा सकते हैं और अपनी पसंद की किसी भी पार्टी में शामिल हो सकते हैं, मेरी शुभकामनाएँ।”, कुमार ने कहा, जैसा कि एएनआई द्वारा रिपोर्ट किया गया है।

इससे पहले मंगलवार (21 जनवरी) को, वर्मा ने एक पत्र लिखकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी के साथ जदयू के गठबंधन और सीएए-एनपीआर-एनआरसी के खिलाफ “बड़े पैमाने पर राष्ट्रीय नाराजगी” पर “वैचारिक स्पष्टता” रखने के लिए कहा था।

गौरतलब है कि वर्मा ने पहले ही पार्टी छोड़ने का संकेत दिया था। “मैं अगले कुछ दिनों में निर्णय लूँगा। मेरे लिए पार्टी में रहना मुश्किल हो गया है।”, वर्मा की बातों को रिपोर्ट में कहा गया।