समाचार
मेहुल चोकसी के अपहरण का दावा, एंटीगुआ बोला- “डोमिनिका भारत को सौंपे आरोपी”

भगोड़ा हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी के वकील विजय अग्रवाल ने आरोप लगाया कि उसके मुवक्किल का जबरदस्ती एंटीगुआ से अपहरण कर लिया गया। फिर डोमिनिका ले जाया गया। उसे परेशान भी किया गया है, जिसके निशान चोकसी के शरीर पर मिले हैं।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, वकील विजय अग्रवाल ने कहा, “मैं बता रहा हूँ कि चोकसी के शरीर पर चोट के निशान हैं। अब हम डोमिनिका में कानूनी मदद के लिए पूरी कोशिश कर रहे हैं, ताकि उन्हें एंटीगुआ पुनः लाया जा सके।”

उन्होंने दावा किया कि मेहुल चोकसी को एंटीगुआ में जॉली हार्बर के करीब कुछ लोगों ने अगवा करवा लिया था। वह रविवार को वहाँ पहुँच गया और सोमवार को उसे पुलिस स्टेशन ले जाया गया। डोमिनिका में भगोड़े कारोबारी के वकील मार्श वेन की पुलिस स्टेशन में उनसे भेंट हुई। वकील ने बताया कि मेहुल का आरोप है कि उनका अपहरण किया गया और मारपीट की गई।

बता दें कि पीएनबी घोटाले का आरोपी हाल ही में एंटीगुआ और बारबुडा से भाग गया था। उसके खिलाफ इंटरपोल ने येलो नोटिस जारी की थी। इसके बाद डोमिनिका में उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

एंटीगुआ और बारबुडा के प्रधानमंत्री गेस्टॉन ब्राउने ने कहा कि उन्होंने डोमिनिका को आरोपी को सीधे भारत को सौंपने को कहा है।