समाचार
चौबेपुर पूर्व एसओ विनय तिवारी और दरोगा केके शर्मा गिरफ्तार, जेल भजने की तैयारी

कानपुर के चौबेपुर में विकास दुबे और उसके साथियों द्वारा आठ पुलिसवालों की हत्या के मामले में उत्तर प्रदेश एसटीएफ ने पूर्व एसओ विनय तिवारी और दरोगा केके शर्मा को कुख्यात अपराधी का साथ देने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, कानपुर एसएसपी दिनेश कुमार ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि चौबेपुर थाने के दोनों पुलिसकर्मियों पर 120 बी के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। दोनों को जेल भेजने की तैयारी की जा रही है। दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

कुख्यात अपराधी विकास दुबे पर पाँच लाख रुपये का इनाम घोषित कर दिया गया है। बुधवार को हमीरपुर में गैंगस्टर के साथी अमर को मुठभेड़ में मारने के बाद उसके एक और साथी श्यामू बाजपेयी को कानपुर में पुलिस ने धर दबोचा है। दोनों के सिर पर 50,000 रुपये का इनाम था।

सुबह विकास के गाँव पहुँची एसटीएफ की एक टीम ने तलाशी अभियान शुरू किया। इसके तहत घर के बाहर बने कुएँ को खाली करवाया गया। बताया जा रहा है कि इस कुएँ में असलहे छिपे होने की आशंका के चलते इसे खाली कराया जा रहा है।