समाचार
टिक-टॉक के भारतीय विकल्प चिंगारी को किया गया 25 लाख बार डाउनलोड

भारत में चिंगारी नाम का एक घरेलू ऐप बनाया गया है, जिसे वीडियो शेयरिंग ऐप टिक-टॉक के देशी विकल्प के रूप में देखा जा रहा है। अब इसने डिजिटल स्पेस में तेजी पकड़नी भी शुरू कर दी है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, लॉन्च होने के बाद से इस ऐप को 25 लाख से अधिक बार डाउनलोड किया जा चुका है। इसको सुमित घोष, बिस्वत्मा नायक और सिद्धार्थ गौतम ने विकसित किया है, जो क्रमशः छत्तीसगढ़, ओडिशा और कर्नाटक के मोबाइल एप्लिकेशन डेवलपर्स हैं।

चिंगारी के उत्पाद प्रमुख सुमित घोष ने कहा, “ऐप को भारतीय उपयोगकर्ताओं की मांगों को पूरा करने के लिए अनुकूल बनाया गया है। हमें भारतीय उपयोगकर्ताओं से भारी प्रतिक्रिया मिल रही है। हाल ही में आए आँकड़ों के अनुसार, ऐप 25 लाख से अधिक बार डाउनलोड हुआ है। यह भारत में विकसित ऐप है, जिसे टिक-टॉक के प्रतिद्वंद्वी के रूप में देखा जा रहा है।”

रिपोर्ट में आगे कहा गया कि चिंगारी में ट्रेंडिंग न्यूज़, एंटरटेनमेंट न्यूज़, फनी वीडियो, वीडियो सॉन्ग, विश, लव कोट्स, वॉट्सैप के लिए स्टेटस वीडियो जैसी विशेषताएँ हैं। रोज 10,000 से अधिक उपोयगकर्ता इस मंच का उपयोग कर रचनात्मक सामग्रियाँ बना रहे हैं।

बता दें कि भारत और चीन के बीच चल रहे सैन्य गतिरोध की वजह से गलवान घाटी में हिंसा हुई, जिसमें कई भारतीय सैनिक शहीद हो गए। इसके बाद देश में चीन वस्तुओं और उत्पादों का तेजी से बहिष्कार होने लगा।