समाचार
मोबाइल ऐप पर प्रतिबंध की “गलती सुधारे भारत, हम करेंगे उनके हितों की रक्षा”- चीन

चीन ने मंगलवार (28 जुलाई) को भारत से देश में 59 चीनी मोबाइल ऐप पर प्रतिबंध लगाने के कदम को गलत ठहराते हुए उसे सुधारने को कहा। साथ ही यह भी कहा कि भारत की कार्रवाई से इन ऐप के मालिकाना हक वाली कंपनियों के कानूनी अधिकारों और हितों को गंभीर रूप से नुकसान पहुँचा है।

भारत में चीनी दूतावास के प्रवक्ता जी रॉन्ग ने चीनी मैसेजिंग ऐप वीचैट पर प्रतिबंध को लेकर संवाददाताओं के सवालों के जवाब में कहा, “भारत से हमने उठाए गए गलत कदमों को सुधारने के लिए कहा है।” भारत ने इससे पहले जून में 59 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया था। इनमें राष्ट्रीय सुरक्षा चिंताओं को लेकर टिकटॉक भी शामिल था।

ज़ी रॉन्ग ने कहा, “भारत सरकार ने वीचैट सहित चीनी पृष्ठभूमि वाले 59 मोबाइल ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया। इससे कंपनियों के वैध अधिकारों और हितों को गंभीर नुकसान पहुँचा है।”

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, आधिकारिक तौर पर बीजिंग ने चीनी उद्यमों से अंतर-राष्ट्रीय नियमों और स्थानीय कानूनों और नियमों का पालन करने के लिए कहा।

चीनी दूतावास के प्रवक्ता ने कहा, “भारत और चीन के बीच व्यावहारिक सहयोग पारस्परिक रूप से लाभकारी था। इस तरह के सहयोग में जानबूझकर हस्तक्षेप भारतीय पक्ष के हितों की सेवा नहीं करेगा। बीजिंग चीनी कंपनियों के वैध अधिकारों और हितों की रक्षा के लिए आवश्यक उपाय करेगा।”