समाचार
छठ पूजा के लिए तृणमूल, भाजपा आए साथ, कोलकाता में एनजीटी ने नहीं दी अनुमति

गुरुवार को नेशनल ग्रीन ट्रिब्युनल (एनजीटी) ने कोलकाता की प्रसिद्ध रबींद्र सरोबर झील में छठ पूजा करने की अनुमति नहीं दी जिसके बाद हिंदू-भाषा मतों की आकांक्षा में तृणमूल कांग्रेस ने इसपर विरोध दर्ज किया। कोलकाता नगर विकास प्राधिकरण (केएमडीए) ने छठ पूजा की अनुमति के लिए अपील की।

19 और 20 नवंबर को होने वाली पूजा के लिए केएमडीए ने धार्मिक भावना के आधार पर छूट माँगी है और आश्वासन दिलाया है कि झील में प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए प्रयास किए जाएँगे। हिंदुस्तान टाइम्स  की रिपोर्ट के अनुसार 2019 में प्रतिबंध के बावजूद श्रद्धालु झील पर पहुँच गए थे।

पश्चिम बंगाल के शहरी विकास मंत्री ने इसके लिए सर्वोच्च न्यायालय तक जाने की बात कह दी, वहीं हिंदी-भाषियों में पर्याप्त समर्थन प्राप्त भाजपा ने इसका समर्थन किया। भाजपा के राष्ट्रीय सचिव राहुल सिन्हा ने कहा कि कुछ नियम बनाए जा सकते हैं लेकिन पूरी पूजा पर ही रोक लगाना गलत है।