समाचार
चंद्रयान-2- चंद्रमा की पाँचवीं कक्षा की परिक्रमा पूरी, आज अलग होगा लैंडर विक्रम

चंद्रयान-2 ने रविवार को चंद्रमा की 5वीं कक्षा की परिक्रमा पूरी कर ली है। अब लैंडर विक्रम को अंतरिक्ष यान से अलग करने की तैयारी शुरू हो चुकी है। इसरो ने जानकारी दी कि सोमवार को यह अलग होकर चंद्रमा की सतह पर उतरने की तरफ बढ़ेगा ।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने जानकारी दी, “चंद्रयान-2 रविवार शाम 6.21 बजे चंद्रमा की 5वीं कक्षा में सफलतापूर्वक प्रवेश कर गया। इस कक्षा से चंद्रमा की न्यूनतम दूरी 109 किमी है।”

इसरो ने बताया, “चंद्रमा पर उतरने से पहले अभी अंतरिक्ष यान 2 और कक्षाओं में प्रवेश करेगा। 7 सितंबर को यह चंद्रमा की सतह पर उतरेगा। इसरो चेयरमैन के. सिवन के मुताबिक, 2 सितंबर को लैंडर सेपरेशन काफी तेज होगा। यह उतनी ही तेजी से होगा, जितनी तेजी से सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल से अलग होता है।”

कहा जा रहा है कि 7 सितंबर को 1:30 बजे विक्रम और इसके भीतर मौजूद रोवर प्रज्ञान चंद्रमा की सतह पर उतरेगा। इस प्रक्रिया में करीब 60 मिनट लगेंगे। बता दें कि 22 जुलाई को भारत की धरती से छोड़े गए चंद्रयान-2 ने 20 अगस्त को चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश किया था।