समाचार
परमाणु ऊर्जा के वाणिज्यिक उपयोग हेतु केंद्र हर साल खोलेगा एक परमाणु ऊर्जा रिएक्टर

भारत के असैनिक परमाणु ऊर्जा क्षेत्र को बढ़ावा देने के उद्देश्य से बड़ा निर्णय लिया गया है। भारत सरकार हर साल कम से कम एक नए परमाणु ऊर्जा रिएक्टर को चालू करने के लिए तैयार है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार अप्रैल 2020 में एक 700 मेगा वाट की क्षमता के भारी जल दबाव वाले रिएक्टर को गुजरात के काकरापार में स्थापित किया जाएगा।

इस खबर की घोषणा परमाणु ऊर्जा विभाग (डीईए) के वरिष्ठ अधिकारी श्रीकृष्ण गुप्ता ने केंद्रीय डीईए मंत्री जितेंद्र सिंह की उपस्थिति में की।

काकरापार-3 परमाणु ऊर्जा रिएक्टर को वर्ष के मध्य में चालू किया जाएगा। इसके बाद, काकरापार-4 परमाणु रिएक्टर को 2021 के मध्य में चालू किया जाएगा। इसके बाद राजस्थान के रावतभाटा में 2022 के मध्य तक आरएपीपी-7 परमाणु रिएक्टर का संचालन किया जाएगा।

वर्तमान में, भारत में भारतीय परमाणु ऊर्जा निगम लिमिटेड (एनपीसीआईएल) के दायरे में 22 परमाणु रिएक्टर चल रहे हैं। इन रिएक्टरों की कुल स्थापित क्षमता 6780 मेगावाट है।