समाचार
बंगाल में भाजपा के 77 विधायकों को गृह मंत्रालय ने दिया केंद्रीय बलों का सुरक्षा कवच

पश्चिम बंगाल में बढ़ती हिंसा के बीच केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भाजपा के 61 विधायकों को केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) की एक्स श्रेणी की वीआईपी सुरक्षा प्रदान की है। इसके साथ ही अब भगवा पार्टी के सभी 77 विधायकों के पास केंद्रीय बलों के सुरक्षा कवच हैं।

यह गौर किया जाना चाहिए कि राज्य में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी के पास पहले से ही केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की दूसरी उच्चतम ज़ेड श्रेणी की सुरक्षा व्यवस्था है। उन्होंने विधानसभा चुनाव में नंदीग्राम में तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी को हराया था।

गृह मंत्रालय ने खुफिया इकाइयों की रिपोर्टों के साथ मंत्रालय की चार सदस्यीय टीम, जिसने चुनाव परिणामों की घोषणा के बाद राज्य का दौरा किया था, द्वारा उपलब्ध करवाई गई जानकारियों पर अच्छी तरह विचार किया।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, इसके परिणामस्वरूप भाजपा विधायकों को कड़ी सुरक्षा देने का निर्णय केंद्र सरकार द्वारा लिया गया।

भाजपा के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय ने अपनी रिपोर्ट में बताया, “हमने गृह मंत्री से अपने 77 विधायकों को सुरक्षा प्रदान करने का अनुरोध किया था क्योंकि वे अपने निर्वाचन क्षेत्र सहित अपने काम के लिए कहीं भी यात्रा करने में सक्षम नहीं थे। अगर हिंसा कम होने लगती है तो वे दी गई सुरक्षा पर पुनर्विचार कर सकते हैं। फिलहाल, अभी हमें इसकी आवश्यकता है।”

पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनावों में ममता बनर्जी की शानदार जीत के बाद तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यकर्ताओं व समर्थकों के खिलाफ बड़े पैमाने पर हिंसा की थी। ऐसे में पार्टी के कार्यकर्ताओं को अपने घरों से भागना पड़ा था। यही नहीं, तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने पार्टी कार्यालयों पर भी हमला किया था।