समाचार
केंद्र सरकार 1 अप्रैल से एसी और एलईडी लाइटों के लिए पीएलआई योजना शुरू करेगी

वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय वित्त मंत्रालय द्वारा प्रस्ताव को अनुमति प्राप्त होने के बाद 1 अप्रैल को औपचारिक रूप से 6,238 करोड़ रुपये के वातानुकूलक (एसी) और एलईडी लाइटों के लिए उत्पादन आधारित प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना का शुभारंभ करेगा।

लाइवमिंट की रिपोर्ट के अनुसार, गत मार्च में सरकार ने 51,355 करोड़ के मूल्य वाले तीन क्षेत्रों मोबाइल फोन निर्माण व विस्तृत इलेक्ट्रॉनिक्स घटकों, दवा मध्यवर्ती व सक्रिय दवा सामग्री और चिकित्सा उपकरणों के लिए पीएलआई योजनाओं की घोषणा की थी। नवंबर में इसने स्थानीय विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए 14.6 खरब रुपये के अतिरिक्त प्रतिबद्ध प्रोत्साहन के साथ 10 और क्षेत्रों को सूची में जोड़ा था।

उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (डीपीआईआईटी) के सचिव गुरुप्रसाद महापात्रा ने शुक्रवार (5 फरवरी) को कहा था, “हमें पूरी उम्मीद है कि इस वित्तीय वर्ष (31 मार्च को) के समाप्त होने से पहले सभी पीएलआई योजनाओं को कैबिनेट की अनुमति मिल जाएगी और इसे अधिसूचित किया जाएगा। हमने एयर-कंडीशनर और एलईडी कंपनियों के साथ व्यापक हितधारक परामर्श किया है।”

महापात्रा ने आगे कहा, “पीएलआई योजना देश में परिवर्तनकारी साबित होगी। यह न सिर्फ स्थानीय स्तर पर बल्कि विश्वभर में ध्यान आकर्षित करेगी। इस वजह से भारत कुछ गुणवत्तापूर्ण और अच्छी श्रेणी के उत्पादों का निर्माण कर सकता है, जो इसे एक वैश्विक चैंपियन बना देगा। हम विश्व स्तर पर करीब 1,000 कंपनियों की सक्रिय रूप से निगरानी कर रहे हैं, जो पहले से ही भारत में हैं और विस्तार करने की कोशिश कर रही हैं या प्रवेश करने का मन बना रही हैं।”