समाचार
केंद्र सरकार उद्योग जगत के 10 क्षेत्रों को ₹2 लाख करोड़ का नया राहत पैकेज देगी

केंद्र सरकार ने देश के उद्योग जगत को बड़ी राहत देते हुए 2 लाख करोड़ रुपये का नया राहत पैकेज देने की घोषणा की है। सरकार ने उद्योग जगत के 10 क्षेत्रों को उत्पादन आधारित प्रोत्साहन (पीएलआई) देने का निर्णय किया है।

आजतक की रिपोर्ट के अनुसार, केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार (11 नवंबर) को प्रस्ताव को स्वीकृति दी। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया, “इससे नौकरियों का सृजन होगा। आत्मनिर्भर भारत के साथ उभरते हुए क्षेत्रों को मदद मिलेगी।”

उन्होंने कहा, “राहत पाने वाले क्षेत्रों में एडवांस केमेस्ट्री सेल बैटरी (₹18,100 करोड़), इलेक्ट्रॉनिक ऐंड टेक्नोलॉजी प्रोजेक्ट (5000 करोड़), ऑटोमोबाइल और ऑटो कम्पोनेंट्स (₹57,042 करोड़), फार्मास्यूटिकल ड्रग्स (₹15,000 करोड़), टेलीकॉम एवं नेटवर्किंग प्रोडक्ट (₹12,195 करोड़), टेक्सटाइल उत्पाद (₹10,683 करोड़ ), फूड प्रोडक्ट्स (₹10,900 करोड़), सोलर पीवी मॉड्यूल्स (₹4,500 करोड़), व्हाइट गुड्स (₹6,238 करोड़) और स्पेशलिटी स्टील (₹6,322 करोड़) हैं।

केंद्र सरकार उत्पादन आधारित प्रोत्साहन देने और बुनियादी ढाँचा परियोजनाओं की वायबिलिटी गैप फंडिंग के लिए आगामी पाँच वर्षों में 2 लाख करोड़ रुपये खर्च करेगी। साथ ही सरकार ने इंफ्रास्ट्रक्चर के कई क्षेत्रों के लिए वाय​बिलिटी गैप फंडिंग के तहत कई पीपीपी परियोजनाओं की मदद की घोषणा भी की है।