समाचार
सीबीएसई सतर्क- बोर्ड परीक्षा के प्रश्न पत्रों को लीक होने से बचाने के लिए किए उपाय
आस्था विद्या मंदिर, दाँतेवाड़ा में कम्प्यूटर प्रयोगशाला में बच्चे

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) इस बात से खुश है कि इस बार किसी भी विषय के प्रश्न पत्र लीक नहीं हुए हैं। हालाँकि परीक्षाएँ खत्म होने में एक सप्ताह शेष है लेकिन सीबीएसई ने इस बार कई कदम उठाए हैं जि कारण से परीक्षाओं का सफलतापूर्वक आयोजन हो रहा है।

2018 में 12वीं कक्षा के इकोनॉमिक्स का प्रश्न पत्र लीक होने के कारण उसे दुबारा करवाया गया था। ऐसी गतिविधियों को रोकने के लिए सीबीएसई कई नई तकनीकों का उपयोग कर रहा है। टाइम्स ऑफ़ इंडिया  की खबर में बताया गया है कि सीबीएसई ने प्रश्न पत्र के अलग-अलग सेटों में 30 प्रतिशत नए प्रश्न रखे हैं। साथ ही कई विषयों के प्रश्न पत्रों के तीन से ज़्यादा सेट भी तैयार किए गए हैं।

प्रश्न पत्रों के लीक होने के समय उनका पता लगए जाने के लिए उनमें क्यूआर कोड का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। साथ ही लीक होने जैसी स्थिति में परीक्षाओं में देरी न होने के लिए गुप्त प्रश्नपत्रों को विकल्प के रूप में रखा गया है जिन्हें ज़रूरत पड़ने पर चंद मिनटों में इंटरनेट के द्वारा परीक्षा केंद्रों में भेजा जा सकता है।

बोर्ड की परीक्षाओं को सुरक्षित तरीके से करवाने के लिए सीबीएसई ने इस बार बहुत सतर्कता दिखाई है जिसकी वजह से अब तक सभी परीक्षाएँ सफलतापूर्वक पूरी हुई हैं।