समाचार
मिशेल की गिरफ्तारी के बाद सीबीआई ने शुरू की ‘घूस’ लेन-देन वाले खातों की जाँच

मंगलवार (4 दिसंबर) रात दिल्ली लाए गए अगस्ता वेस्टलैंड के बुचौलिए क्रिश्चियन मिशेल से सीबीआई लगातार पूछताछ कर रही है। इस सघन पूछताछ में मिशेल को मात्र दो घंटे ही सोने दिया गया, जागरण  ने बताया।

सूत्रों के अनुसार जाँच संगठन को मिशेल के यूएई में लॉयड्स टीएसबी बैंक खाते की स्टेटमेंट हासिल करने में परेशानी आ रही है जिससे उसने भारत में राजनेताओं और नौकरशाहों से पैसों का लेन-देन किया था। इस बैंक को बाद में 2011-12 में एचएसबीसी द्वारा ले लिया गया था लेकिन उस अवधि में मिशेल के लेन-देन के दस्तावेज़ अनुपस्थित हैं।

बुधवार (5 नवंबर) को सीबीआई ने दिल्ली न्यायालय को बताया कि मिशेल द्वारा 12 जाली खातों का प्रयोग कर कुल 3.7 करोड़ यूरो भारत में भेजे गए थे। अधिकारियों के अनुसार, मिशेल ग्लोबल सर्विस एफज़ेडई (जीएसएफ), दुबई को नाम से लॉयड्स टीएसबी में यूएई से एक बैंक खाता संचालित करता था।

अधिकारियों ने इंडियन एक्सप्रेस  को बताया कि अगस्ता वेस्टलैंड द्वारा जीएसएफ के खाते में 2006-07 के दौरान 3 करोड़ रुपए डाले गए थे। सीबीआई का आरोप है कि यह पैसा भारत भेजा गया था और फिर राजनेताओं और नौकरशाहों में वितरित हुआ।

जाँच एजेंसी ने माना कि बैंक के आधिकारिक डाटा के बिना मिशेल का अपराध सिद्ध करना मुश्किल होगा। हालाँकि सीबीआई ने दावा किया है कि यूएई अधिकारी उन्हें आवश्यक डाटा उपलब्ध करवाएँगे।