समाचार
बिहार- भ्रष्टाचारी को पकड़वाओ और ₹ 5 लाख तक इनाम पाओ, कैबिनेट में प्रस्ताव पास

बिहार में नीतीश कुमार सरकार ने भ्रष्टाचार करने वालों को पकड़वाने पर पुरस्कार देने की घोषणा की है। भ्रष्ट कर्मचारियों को पकड़वाने पर एक से 10 हजार रुपये तक का पुरस्कार दिया जाएगा। अगर किसी मामले में सरकार की कोई बड़ी बचत करवाता है तो उसे रकम की दो प्रतिशत राशि दी जाएगी लेकिन यह राशि 5 लाख रुपये से अधिक नहीं होगी।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, बिहार कैबिनेट की बैठक में निगरानी के इस प्रस्ताव को स्वीकृति दी गई। ऐसे लोगों का नाम और पता गुप्त रखा जाएगा। जानकारी देने वाला सरकारी कर्मचारी के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति, आलीशान मकान बनवाने या खरीदने, भ्रष्ट आचरण की शिकायत कर सकता है। जाँच के बाद आरोप सही पाए जाने पर इनाम दिया जाएगा।

राज्य सरकार ने इसके लिए पुरस्कार कोष का गठन किया है। इसी से पुरस्कार राशि दी जाएगी। साथ ही न्यायालय तक आने-जाने का खर्च भी राज्य सरकार देगी। ट्रेन के किराए से लेकर आने-जाने के दौरान खाने-पीने के लिए 200 रुपये भी सरकार देगी।

इसके अलावा, पटना मेट्रो परियोजना में विभिन्न स्तर के 193 पदों पर बहाली की जाएगी। कैबिनेट ने पटना मेट्रो रेल कॉरपोरेशन में बहाली के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। इसमें नौ जीएम, छह डीजीएम, एक असिस्टेंट मैनेजर मॉनिटरिंग एंड को-ऑर्डिनेशन, आठ सहायक अभियंता, एक असिस्टेंट मैनेजर फाइनेंस और एक एकाउंट असिस्टेंट, ट्रांजेक्शन एडवाइजर समेत अनेक स्तर के पद शामिल हैं।