समाचार
मुख्तार अंसारी के लखनऊ स्थित रानी सल्तनत भवन पर योगी सरकार का चला बुलडोज़र

माफिया डॉन से विधायक बने मुख्तार अंसारी की लखनऊ के हजरतगंज क्षेत्र में स्थित संपत्ति को लखनऊ विकास प्राधिकरण (एलडीए) ने अवैध बताते हुए शनिवार (6 मार्च) को उस पर बुलडोज़र चलवा दिया।

टाइम्स नाऊ हिंदी की रिपोर्ट के अनुसार, रानी सल्तनत नाम से मुख्तार अंसारी के भवन को गिराने एलडीए की टीम सुबह 7 बजे ही पहुँच गई थी। प्राधिकरण का कहना है कि नक्शा पास करवाए बगैर ही भवन का निर्माण करवा दिया गया था।

बता दें कि मुख्तार के खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। मऊ से बसपा विधायक वर्तमान में पंजाब की रोपड़ जेल में बंद है। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने पंजाब से उसे स्थानांतरित करने की अपील की थी लेकिन उसे अस्वीकार कर दिया गया। इसको लेकर दोनों राज्यों की सरकारों  के बीच विवाद जारी है। मामला न्यायालय तक पहुँच गया है।

योगी आदित्यनाथ सरकार ने मुख्तार अंसारी और उनके नाम से अवैध कारोबार चलाने वाले लोगों के खिलाफ कड़े कदम उठाए हैं। लखनऊ, मऊ और गाज़ीपुर में अंसारी से जुड़ी करोड़ों रुपये की अवैध संपत्ति को राज्य की एजेंसियों ने ध्वस्त कर दिया है।