समाचार
“भारत की संप्रभुता को हानि पहुँचाने का नीच प्रयास”, विदेश सचिव ने चेताया पाकिस्तान को

पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह मेहमूद क़ुरैशी और हुर्रियत नेता मिरवाइज़ उमर फारूक़ के बीच फ़ोन पर हुई वार्ता के संबंध में विदेश सचिव विजय गोखले ने बुधवार (30 जनवरी) को पाकिस्तान के उच्च आयुक्त सोहेल महमूद को बुलावा भेजा। महमूद से कहा गया कि क़ुरैशी का कृत्य भारत की एकता और संप्रभुता को विध्वंसित करने का एक नीच प्रयास था, विदेश मंत्रालय ने बताया।

विदेश सचिव ने यह भी कहा कि पाकिस्तानी विदेश मंत्री की इस हरकत ने साफ कर दिया है कि आधिकारिक रूप से पाकिस्तान ऐसे व्यक्तियों को उकसाता है और प्रोत्साहन देता है जो आतंकवाद और भारत-विरोधी गतिविधियों में संलिप्त होते हैं।

“पाकिस्तानी उच्च आयुक्त को विदेश सचिव ने विधिवत सूचित किया कि भारत सरकार अपेक्षा करती है कि पाकिस्तान इस तरह के प्रयास न करे। उन्हें चेताया गया कि यदि ये गतिविधियाँ जारी रहीं तो इसका परिणाम बढ़ती उलझनें होंगी।”, मंत्रालय ने न्यू इंडियन एकेसप्रेस  को बताया।