समाचार
लाल किले में नेताजी को समर्पित संग्रहालय के साथ दो अन्य का भी उद्घाटन

बुधवार (23 जनवरी) को प्रधानमंत्री मोदी ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 122वीं जयंती पर उन्हें समर्पित लाल किले में स्थित संग्रहालय का उद्घाटन किया। इस संग्रहालय में नेताजी व उनके द्वारा स्थापित आज़ाद हिंद फौज से संबंधित की वस्तुएँ प्रदर्शित की जाएँगी। इन वस्तुओं में उनकी लकड़ी की कुर्सी, तलवार व सेना के मेडल, बैज व वर्दी भी सम्मिलित है।

इसके अलावा लाल किले में ही भारतीय स्वतंत्रता संग्राम को समर्पित दो अन्य संग्रहालयों का उद्घाटन भी प्रधानमंत्री ने किया। जलियाँवाला बाग कांड में शहीद भारतीयों व प्रथम विश्व युद्ध में भारतीय सेना के शौर्य को समर्पित “याद-ए-जलियाँ” संग्रहालय का उद्घाटन किया गया।

तीसरा संग्रहालय 1857 के स्वतंत्रता संग्राम को समर्पित है। इन संग्रहालयों में छायाचित्र, चित्र, अखबारों की कटिंग व पुराने सार्वजनिक रिकॉर्डों के अलावा दिलचस्पी बढ़ाने के लिए ऑडिया-वीडियो क्लिप्स, ऐनीमेशन व मल्टीमीडिया की भी सुविधा है।

गणतंत्र दिवस उत्सव के लिए जनता के लिए 31 जनवरी तक लाल किला बंद रहेहा व 1 फरवरी से दर्शक इन संग्रहालयों का भ्रमण कर सकेंगे।