समाचार
एनएचएआई राष्ट्रीय राजमार्गों पर ईवी चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने की योजना बना रहा है

देश में राष्ट्रीय राजमार्गों के किनारे कई इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने पर भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) विचार कर रहा है।

एजेंसी ने 22 राज्यों में फैली 650 से अधिक संपत्तियों पर ध्यान केंद्रित किया है। इसमें भारत में राजमार्गों के इंफ्रास्ट्रक्चर को नवीनीकृत करने के लिए 3,000 हेक्टेयर से अधिक का संयुक्त क्षेत्र शामिल है। वास्तव में, इनमें से 94 कार्यस्थलों पर आगामी मुंबई-दिल्ली के बहुत बड़े एक्सप्रेस-वे के किनारे आती हैं।

एनएचएआई इस पहल को शुरू करने के लिए निजी क्षेत्र के साथ सहयोग करेगा, जिसका उद्देश्य पूरे देश में ईवी इंफ्रास्ट्रक्चर को बढ़ाना है। इसकी शुरुआत के लिए प्राधिकरण ने उपरोक्त 650 स्थलों में से 138 के लिए निविदाएँ मांगी हैं। इसको लेकर निजी संस्थाओं ने बहुत रुचि दिखाई है।

लंबी दूरी की यात्रा के लिए बैटरी से चलने वाली कारों की दक्षता के बारे में ईवी मालिकों की आशंकाओं को दूर करने को एनएचएआई इस कार्यक्रम में गति ला रहा है।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री ने इस वर्ष की शुरुआत में घोषणा की थी कि भारत दुनिया में ईवीएस का सबसे बड़ा विनिर्माण केंद्र बन जाएगा।