समाचार
कंगना रनौत के मुंबई स्थित कार्यालय पर बीएमसी ने चलाई जेसीबी, उच्च न्यायालय पहुँचीं

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के मुंबई में पाली स्थित कार्यालय पर बुधवार (9 सितंबर) को जेसीबी चला दी गई। उनके कार्यालय को तोड़ने की कार्रवाई अब भी जारी है। इस कार्रवाई के खिलाफ कंगना रनौत ने बॉम्बे उच्च न्यायालय का रुख किया है, जिस पर दोपहर में सुनवाई होगी।

जनसत्ता की रिपोर्ट के अनुसार, कार्रवाई के बीच कंगना ने ट्वीट कर बीएमसी कर्मचारियों की तुलना बाबर और उसकी सेना से कर दी है। उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, “लोकतंत्र की हत्या हो गई है। ये पाकिस्तान है। मैं कभी गलत नहीं थी। ये मेरे दुश्मन बार-बार साबित होते हैं। इसी वजह से मेरा मुंबई अब पीओके बन चुका है।”

अभिनेत्री बुधवार दोपहर में मुंबई पहुँचने वाली हैं। उनका यह कार्यालय 48 करोड़ की लागत से बनकर तैयार हुआ था। इस पर अचानक एक दिन पूर्व ही बीएमसी अधिकारियों ने एक नोटिस चस्पा कर दी। इसका जवाब देने के लिए उन्हें 24 घंटे का समय दिया गया और समय बीतते ही कार्रवाई शुरू कर दी गई।

बता दें कि कंगना रनौत ने बीते दिनों मुंबई की तुलना पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) से कर दी थी। इसके चलते शिवसेना उनके खिलाफ प्रदर्शन कर रही है। पार्टी की महिला कार्यकर्ताओं ने अभिनेत्री को लेकर प्रदर्शन किया था। साथ ही शिवसेना के प्रमुख नेता संजय राउत ने भी उन्हें मुंबई न आने की सलाह दी थी।