समाचार
भाजपा सांसद ने नुसरत जहां के विवाह-विवाद पर संसद सदस्यता रद्द करने की माँग की

नुसरत जहां के विवाह का मामला अब लोकसभा तक पहुँच गया है। भाजपा सांसद संघमित्रा मौर्य ने लोकसभा अध्यक्ष को पत्र लिखकर तृणमूल कांग्रेस की नेत्री की सदस्यता रद्द करने की माँग की है।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, भाजपा सांसद ने कहा, “नुसरत जहां का आचरण अमर्यादित है। विवाह के मामले में उन्होंने अपने मतदाताओं को धोखे में रखा। इससे संसद की गरिमा भी धूमिल हुई है।”

उन्होंने कहा, “मामले को पहले संसद की आचार समिति को भेजा जाना चाहिए। साथ ही जाँच कर नुसरत जहाँ के विरुद्ध कार्रवाई की जानी चाहिए।”

सांसद संघमित्रा मौर्य ने पत्र में कहा, “लोकसभा सदस्य के रूप में शपथ के दौरान अपना नाम उन्होंने नुसरत जहां रूही जैन बताया था। लोकसभा की वेबसाइट पर भी उनके पति का नाम निखिल जैन लिखा है। उनके द्वारा हाल ही में दिए गए बयान का अर्थ है कि उन्होंने जानकर संसद को गलत जानकारी दी।”

बता दें कि नुसरत जहां ने कहा था कि कोलकाता के कारोबारी निखिल जैन के साथ उनकी शादी अमान्य है क्योंकि उनका विवाह तुर्की नियमों के तहत हुआ था। कानून की दृष्टि में यह विवाह नहीं है बल्कि एक रिश्ता है या लिव-इन रिलेशनशिप है।