समाचार
मगही पान का यूएस, ब्रिटेन, फ्रांस आदि में होगा निर्यात, जीआई टैग के बाद तैयारी शुरू

बिहार के मगही पान को जीआई टैग मिलने के बाद विदेश में भी इसकी मांग तेजी से बढ़ गई है। अब ब्रिटेन, अमेरिका सहित फ्रांस जैसे देशों में इसका निर्यात होगा।

न्यूज़-18 की रिपोर्ट के अनुसार, मगही पान के निर्यात का श्रेय बिहार कृषि विश्वविद्यालय के डॉ आरके सहाने को जाता है। उन्होंने ही इसको लेकर पहल की थी और यह बात केंद्र सरकार तक पहुँचाई थी।

केंद्रीय वाणिज्य मंत्रालय के अधीन काम करने वाली संस्था एपीडा ने मगही पान को सूचीबद्ध कर दिया है। इसके बाद पान को विदेश तक भेजने की तैयारी शुरू हो गई है। कई कंपनियाँ इसके निर्यात के लिए आगे आने लगी हैं।

बता दें कि बिहार के कई जिलों में मगही पान का उत्पादन बड़े पैमाने पर होता है। इसकी सबसे अधिक मांग उत्तर प्रदेश में है। बिहार में दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, वैशाली, नवादा, नालन्दा, गया, खगड़िया, पूर्वी चंपारण, औरंगाबाद, सारण, सिवान, मुंगेर, बेगूसराय और शेखपूरा में इसकी खेती होती है।