समाचार
बिहार सरकार ने रिया चक्रवर्ती की याचिका का विरोध कर राजनीतिक दबाव की बात कही

बिहार सरकार ने गुरुवार (13 अगस्त) को सर्वोच्च न्यायालय को लिखित बयान में बताया कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के मौत के मामले में महाराष्ट्र में राजनीतिक दबाव के कारण न प्राथमिकी दर्ज हुई और न बिहार पुलिस की सहायता की गई।

मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती की याचिका पर निर्णय न्यायालय ने सुरक्षित रख लिया है जो यह माँग करती थी कि मामले का स्थानांतरण पटना से मुंबई किया जाए। सर्वोच्च न्यायालय ने सभी पक्षों से उनका लिखित बयान माँगा था।

बिहार के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी को महाराष्ट्र में क्वारन्टाइन किए जाने पर बयान में कहा गया, “बिहार के सभी अधिकारियों ने ज़िम्मेदारी से काम किया लेकिन महाराष्ट्र की ओर से प्राधिकरियों की ओर से ऐसा नहीं हुआ।”

राज्य सरकार ने रिया की स्थानांतरण याचिका का विरोध किया। “वर्तमान मामले के तथ्यों और परिस्थितियों को देखते हुए निवेदन किया जाता है कि सीबीआई मामवे को हाथ में ले और जाँच पूरी करे।”, बिहार सरकार के बयान में कहा गया।