समाचार
टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू को झटका, राज्यसभा के चार सांसद भाजपा में सम्मिलित

तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) प्रमुख और आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू को अपने राज्यसभा के चार सांसदों के पार्टी छोड़कर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में चले जाने से बड़ा झटका लगा है। उनके पास अब उच्च सदन में छह में से सिर्फ दो ही सांसद बचे हैं।

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, यह ऐसे वक्त में हुआ है, जब चंद्रबाबू नायडू अपने परिवार के साथ विदेश में छुट्टियां मनाने गए हुए हैं। यह पहले ही बताया गया था कि वह अपने ही सांसदों की पार्टी से बेदखली का सामना कर रहे हैं, जिसे कथित रूप से रिवर कंजरवेंसी एक्ट की परिधि में बनाया गया था।

टीडीपी के सांसदों में टीजी वेंकटेश, वाईएस चौधरी, सीएम रमेश और जीएम राव भाजपा में शामिल हुए हैं। टीडीपी से इस्तीफा देने के लिए सभी सांसद उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू से मिले। इस उथल-पुथल के बाद टीडीपी के पास उच्च सदन में छह में से केवल दो सांसद बचे हैं।

सांसदों ने कहा, “उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के त्रुटिहीन नेतृत्व से प्रेरित और प्रोत्साहित होने के बाद भाजपा में शामिल होने का निर्णय किया है।” यह बदलाव भाजपा के लिए बड़े फायदे के रूप में सामने आएगा क्योंकि वह राज्यसभा में बहुमत संख्या की माँग कर रही है। वर्तमान में पार्टी के सदन में 245 सदस्यों में 71 सांसद हैं।