समाचार
असम में दो नाबालिगों की दुष्कर्म के बाद हत्या में तीन बांग्लादेशी सहित सात गिरफ्तार

असम के कोकराझार जिले में स्थानीय राभा जनजाति की दो नाबालिग किशोरियों के दुष्कर्म और हत्या के आरोप में सात लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिनमें कम से कम तीन बंगाली भाषी मुसलमान (बांग्लादेश के मूल निवासी) हैं।

शुक्रवार (11 जून) दोपहर से लापता हुईं दो नाबालिग किशोरियाँ उसी शाम को अपने पैतृक गाँव अभयकुटी के पास एक जंगली क्षेत्र में पेड़ से लटकी मिलीं।

कुछ स्थानीय राजनेताओं और जिला पुलिस ने मौतों को आत्महत्या के रूप में दर्ज करने का प्रयास किया लेकिन परिवार के सदस्यों ने जोर देकर कहा कि दोनों की हत्या की गई है।

मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने हस्तक्षेप किया और राज्य पुलिस को पूरी जाँच करने का निर्देश दिया। वे रविवार (13 जून) को पीड़िताओं के परिवार वालों से मिलने कोकराझार भी गए थे।

असम के मुख्यमंत्री ने मंगलवार (15 जून) की देर शाम घोषणा की कि मामला सुलझा लिया गया है और सात लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने तीन आरोपियों के नाम मुजम्मिल शेख, नजीबुल शेख और फारूक रहमान बताए।

उन्होंने कहा, “पीड़िताओं से पहले सामूहिक दुष्कर्म किया गया था। फिर पुलिस को धोखा देने के उद्देश्य से उनका गला घोंट कर शरीर को एक पेड़ से लटका दिया गया था।”