समाचार
क्रिप्टो मुद्रा बिटकॉइन में बांग्लादेश से कश्मीर आतंकी समूह को भेजी गई बड़ी राशि- रिपोर्ट

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, “प्रतिबंधित बांग्लादेशी आतंकी संगठन अंसार अल इस्लाम (एआई) और अंसारुल्लाह बांग्ला टीम (एबीटी) ने कश्मीर के एक अन्य आतंकवादी समूह को क्रिप्टो मुद्रा के रूप में बड़ी राशि भेजी है।”

आईएएनएस से इस बात की पुष्टि करते हुए अधिकारी ने कहा, “ढाका मेट्रोपॉलिटन पुलिस (डीएमपी) काउंटर-टेररिज़्म एंड ट्रांसनेशनल क्राइम यूनिट (सीटीटीसी) के एक विशेष एक्शन ग्रुप ने सितंबर 2019 में दो एआई उग्रवादियों, आउल नवाज उर्फ ​​सोहेल नवाज़ और फज़ले रब्बी चौधरी को गिरफ्तार किया था।”

पूछताछ में उन्होंने बताया था कि आतंकवादी समूह 2014 से बिटकॉइन के माध्यम से बड़ी धनराशि प्राप्त कर रहे थे। उन्होंने पाकिस्तान और खाड़ी देशों से क्रिप्टो मुद्रा के रूप में भी बड़ी राशि एकत्रित की थी।

उग्रवादियों ने दावा किया कि पहले वे ‘हुंडी’ के माध्यम से धन एकत्रित करते थे लेकिन अब यह कानून लागू करने वालों की निगरानी में है। इसके कारण वे बिटक्वाइन में स्थानांतरित हो गए, जो आतंकवादियों के अनुसार, कट्टरपंथी गतिविधियों में उपयोग होने वाले अवैध धन का आदान-प्रदान करने का आसान तरीका है।

स्पेशल एक्शन ग्रुप के अतिरिक्त उपायुक्त अहमदुल इस्लाम ने बताया, “क्रिप्टो मुद्रा की मदद से बड़े पैमाने पर आतंकी वित्तपोषण किया जा रहा है। बिटकॉइन के अवैध लेन-देन की निगरानी करना बहुत कठिन है। हमारे पास इसके लिए उन्नत तकनीकी उपकरण नहीं हैं। भविष्य में आभासी मुद्रा की जाँच करना कानून लागू करने वालों के लिए बड़ी चुनौती होगी।”