समाचार
बकरीद पर जम्मू-कश्मीर में गाय और ऊँट के वध पर लगाया गया प्रतिबंध, आदेश जारी

जम्मू-कश्मीर में इस बार 21 जुलाई को पड़ने वाली बकरीद (ईद-उल-अज़हा) पर लोग गाय और ऊँट का वध नहीं कर सकेंगे। इसको लेकर एक आदेश जारी किया गया है, जिसमें इस पर प्रतिबंध लगाया गया है।

न्यूज़-18 की रिपोर्ट के अनुसार, जम्मू-कश्मीर के पशु और मत्स्य पालन विभाग के योजना निदेशक की ओर से इस प्रतिबंध को लेकर सभी विभागों को आदेश भेज दिया गया है। इसे लागू करवाने के लिए केंद्र शासित प्रदेश के आयुक्त और आईजीपी को भी सूचना दी गई है।

भारत के पशु कल्याण बोर्ड, मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय ने केंद्र सरकार के एक आधिकारिक पत्र का हवाला देते हुए आदेश में लिखा, “जम्मू-कश्मीर में बड़ी संख्या में जानवरों के वध की आशंका है। पशु कल्याण बोर्ड ने कानूनों को कड़ाई से लागू करने के लिए सभी उपायों को लागू करने का अनुरोध किया है।”

बता दें कि केंद्र शासित प्रदेश में बकरीद पर अधिकतर भेड़ों का वध किया जाता है। हालाँकि, कुछ स्थानों पर गायों का भी वध किया जाता है। जम्मू-कश्मीर में गो हत्या पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। नियमों की अवहेलना पर कड़ी सज़ा का भी प्रावधान है।