समाचार
“मुखर और आक्रामक” चीन के विरुद्ध क्वाड राष्ट्रों की सितंबर व अक्टूबर में लगातार बैठकें

एक प्रमुख भू-राजनीतिक विकास में क्वाड राष्ट्रों- भारत, जापान, ऑस्ट्रेलिया और संयुक्त राज्य अमेरिका (यूएस) के विदेश मंत्री और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसएएस) इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में बढ़ते चीन के विस्तारवादी कदमों के मद्देनजर सितंबर और अक्टूबर में बैठक करने की तैयारी कर रहे हैं।

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, अधिकारी अमेरिका के राष्ट्रपति चुनावों से पहले क्वाड प्रतिनिधियों की एक के बाद एक बैठकों की योजना बनाने में लगे हुए हैं, जो नवंबर में होने वाली हैं।

गत शुक्रवार (28 अगस्त) को यूएस विदेश मंत्री रॉबर्ट ओ ब्रायन ने खुलासा किया था कि भारत, ऑस्ट्रेलिया और जापान के साथ सुरक्षा पर बातचीत सितंबर और अक्टूबर में की जा रही है। उन्होंने कहा था कि हवाई में अक्टूबर में भारतीय एनएसए अजीत डोभाल से मिलने की संभावना है, जबकि अमेरिका के सचिव माइक पोम्पिओ सितंबर और अक्टूबर में अपने समकक्ष डॉ एस जयशंकर से मिलने के लिए तैयार हैं।

ओब्रायन ने स्पष्ट रूप से बताया था कि क्वाड संबंधों को चीन ने बदनाम किया। नो-होल्ड-बैरड फैशन में ओ ब्रायन ने ज़ोर देकर कहा, “हम एक बहुत ही मुखर और आक्रामक चीन देख रहे हैं। वहीं, अमेरिका भी अपने सिद्धांतों से पीछ हटने वाला नहीं है। दुनिया के महासागर के रास्ते और अंतरराष्ट्रीय जल नेविगेशन के लिए स्वतंत्र होना चाहिए। बिल्कुल ऐसा ही अंतरिक्ष, वायु अधिकारों और अंतरराष्ट्रीय हवाई क्षेत्र के साथ भी होना चाहिए।”