समाचार
अयप्पा ज्योति में भाग लेने वाले भक्तों के विरुद्ध पुलिस दर्ज कर रही मामला

सबरीमाला कर्मा समिति द्वारा आयोजित ‘अयप्पा ज्योति’ के सफल होने के बाद केरल की कम्युनिस्ट सरकार ने प्रकाश दीवार बनाने वाले निर्दोष लोगों पर कार्यवाही करने का निर्णय लिया है, द टाइम्स ऑफ़ इंडिया  ने बताया।

एर्नाकुलम पुलिस ने कथित तौर पर 1400 भक्तों, जिन्होंने सबरीमाला की प्रथाओं और रीतियों के संरक्षण के प्रति जागरूकता लाने के लिए ‘प्रकाश दीवार’ में भाग लिया था, के विरुद्ध मामला दर्ज किया है।

अंगमली, पेरुंबवूर, मुवत्तुपीज़ा और कुरुप्पापदी में पुलिस ने अज्ञात लोगों के विरुद्ध धारा 147 (दंगा), 283 (सार्वजनिक आवागमन में बाधा) और 149 (अवैध रूप से एक सामान्य उद्देश्य के लिए जनसमूह का एकत्रित होना) के तहत अयप्पा ज्योति में सम्मिलित होने पर मामला दर्ज कर लिया है।

इसके अलावा अंगमली पुलिस ने भाजपा नेताओं- एएन राधाकृष्णन, एमएन गोपी और एमए ब्पह्मराज पर भी मामला दर्ज किया है। पुलिस ने यह भी कहा कि वीडियो द्वारा प्रतिभागिता की पुष्टि होने पर पूर्व पीएससी अध्यक्ष केएस राधाकृष्णन और पूर्व डीजीपी एमजीए रमन के विरुद्ध भी मामले दर्ज किए जाएँगे।

कई महिलाओं समेत 26 दिसंबर को हज़ारों लोगों ने अयप्पा ज्योति में भाग लिया था। केरला सरकार की महिला दीवार के विरोध में कथित तौर पर यह आयोजन हुआ था।