समाचार
अर्णब गोस्वामी पर हमले के आरोप में दो गिरफ्तार, अलका लांबा के ट्वीट से बढ़ा संदेह

रिपब्लिक टीवी के मुख्य संपादक अर्णब गोस्वामी और उनकी पत्नी पर बुधवार देर रात मुंबई में दो अज्ञात लोगों ने हमला कर दिया। यह घटना तब हुई, जब वह स्टूडियो से घर जा रहे थे। पुलिस ने मामले की जाँच शुरू कर दी है।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, अर्णब और उनकी पत्नी को किसी तरह की चोट नहीं आई है। पुलिस ने हमले के संबंध में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। उनके खिलाफ जोशी मार्ग पुलिस थाने में धारा 341 और 504 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

अर्णब गोस्वामी ने बताया, “रात करीब 12.10 बजे पर वह पत्नी और एक सहयोगी के साथ कार्यालय से घर जा रहे थे, तभी गणपतराव कदम मार्ग पर बाइक से आए दो बदमाशों ने उनका रास्ता रोक लिया। उन्होंने चालक की ओर से कार के द्वार पर कई वार किए। कार का शीशा नहीं टूटा तो उन्होंने एक बोतल निकाली और उनकी कार पर फेंक दी।”

हमले के समय अर्णब ही कार चला रहे थे। उनका आरोप है कि यह हमला यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं का है। इसके अलावा रात 3 बजे कांग्रेस नेत्री अलका लांबा के यूथ कांग्रेस की सराहना करते हुए ट्वीट ने गोस्वामी के संदेह को और बल दिया।

सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावेड़कर ने हमले की निंदा करते हुए कहा, “हम वरिष्ठ पत्रकार पर हमले की निंदा करते हैं। यह लोकतंत्र के खिलाफ है। जो लोग सहिष्णुता पर प्रवचन देते हैं, वे इतने असहिष्णु हो गए हैं। यह अलोकतांत्रिक है।”

इससे पूर्व, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को लेकर अर्णब गोस्वामी द्वारा की गई टिप्पणी के विरोध में राजस्थान के जयपुर में दो अलग-अलग जगहों पर शिकायत दर्ज की गई थी। इसके अलावा छत्तीसगढ़ में भी उनके खिलाफ शिकायत दर्ज की गई थी।