समाचार
हरियाणा चुनावी रुझानों में भाजपा बहुमत के आँकड़े के लिए संघर्षरत, अन्य का वर्चस्व

हरियाणा में भाजपा कांग्रेस से आगे है। भाजपा अभी तक के रूझानों में 42 सीटों पर आगे चल रही है, जबकि कांग्रेस 27 सीटों पर आगे है। दुष्यंत चौटाला की जजपा 10 सीटों पर बढ़त बनाकर राज्य की राजनीति में अपनी धमाकेदार शुरुआत की है।

राज्य में सरकार बनाने के लिए 45 सीटों की ज़रूरत है। चुनाव पूर्व सर्वे में सभी एजेंसियों ने हरियाणा में भाजपा को बहुमत दिया था। हालाँकि उस अनुसार परिणाम पार्टी के लिए निराशाजनक हैं।

न्यूज़ 18-आईपोसिस एग्जिट पोल ने अनुमान व्यक्त किया था कि राज्य में बीजेपी को 57, कांग्रेस को 17 और अन्य को 16 सीटें मिलेंगी।टाइम्स नाऊ एग्जिट पोल के अनुमान के बीजेपी को 90 में से 71 सीटें मिल सकती हैं, वहीं कांग्रेस 11 और अन्य को 8 सीटें मिलने की उम्मीद जताई गई थी।

बात करें रिपब्लिक टीवी के जन की बात एग्जिट पोल की तो यहाँ अकेले बीजेपी को बीजेपी को 57 सीटें दी गई थी, जबकि कांग्रेस को 17 और अन्य को 16 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया था।

वहीं इंडिया टुडे एक्सिस के एग्जिट पोल ने राज्य त्रिशंकु विधानसभा का अनुमान व्यक्त किया था। सर्वे के अनुसार, भाजपा को 33 सीटें जबकि कांग्रेस को 32 सीटें मिलेंगी वहीं जजपा को 6-10 सीटें मिलने की बात कही थी।